Aadhaar Card without biometrics: सरकार का बड़ा ऐलान, बिना बॉयोमेट्रिक बनवाएं Aadhaar कार्ड, जानें कैसे करें अप्लाई

Aadhaar Card without biometrics: सरकार का बड़ा ऐलान, बिना बॉयोमेट्रिक बनवाएं Aadhaar कार्ड, जानें कैसे करें अप्लाई

Aadhaar Card without biometrics: केंद्र सरकार की तरफ आधार कार्ड को लेकर एक बड़ा ऐलान किया गया है। सरकार ने साफ किया कि उसकी तरफ से 29 लाख लोगों को बिना बॉयोमेट्रिक डिटेल आधार कार्ड जारी किया गया है। मतलब आप बिना फिंगरप्रिंट और आयरिश स्कैन के आधार कार्ड बना सकते हैं। लोकसभा में मिनिस्टर ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इन्फॉर्मेंशन टेक्नोलॉजी राजीव चंद्रशेखर ने मुताबिक बिना बॉयोमेट्रिक के आधार बनवाने की कुछ नियम और शर्तें हैं। आइए जानते हैं इस बारे में विस्तार से…

Aadhaar Card without biometrics: सरकार का बड़ा ऐलान, बिना बॉयोमेट्रिक बनवाएं Aadhaar कार्ड, जानें कैसे करें अप्लाई

कौन बिना बॉयोमेट्रिक अप्लाई कर सकता है आधार कार्ड

बिना बॉयोमेट्रिक आधार कार्ड अप्लाई करने के लिए आपके पास वैध मेडिकल कारण होना चाहिए। मतलब अगर आपके फिंगरप्रिंट ब्लर हो गए हैं या फिर आपके हाथ नहीं हैं, तो आप मेडिकल सर्टिफिकेट देकर आधार कार्ड अप्लाई कर सकते हैं। वही अगर आपकी आंखे खराब हैं या फिर आंखें नहीं हैं, तो उस हालात में भी आप आधार कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

और पढ़ें-:  Dream11 Today Match Winner: – ₹49 लगाकर बन गया करोड़पति

आधार केंद्र को निर्देश जारी

मिनिस्ट राजीव चंद्रशेयर ने ऐलान किया है कि सरकार की ओर से आधार सर्विस केंद्र को निर्देश दिया गया है कि ब्लरी फिंगरप्रिंट और या फिर आंखों और हाथों से दिव्यांग लोगों को आधार कार्ड जारी किया जाए। सरकार ने कहा कि अगर किसी के ब्लरी फिंगरप्रिंट हैं, तो वो केवल IRIS स्कैन से आधार कार्ड बनवा सकता है। इसी तरह अगर आयरिश स्कैन जिन लोगों के नहीं है, वो फिरंगरप्रिंट से आधार अप्लाई कर सकते हैं।

बिना बॉयोमेट्रिक कैसे अप्लाई करें आधार

सरकार ने साफ किया कि जो व्यक्ति फिंगरप्रिंट और आईरिस दोनों बायोमेट्रिक्स दोनों नहीं दे सकते हैं, वो इसके बिना आधार अप्लाई कर सकते हैं। ऐसे व्यक्ति नाम, लिंग, पता और दिनांक से आधार अप्लाई कर सकते हैं, लेकिन उन्हें अपने हाथ और आंख का मेडिकल सर्टिफिकेट देना होगा। साथ ही अपनी दिव्यांगता की फोटो आधार कार्ड पर जमा करनी होगी।

Official websiteClick here

FAQ


किस प्रकार का आधार कार्ड सबसे अच्छा है?

आधार के विभिन्न रूप आधार पत्र, आधार पीवीसी कार्ड, ई-आधार और एम-आधार हैं । आधार के सभी रूप समान रूप से वैध और स्वीकार्य हैं।


आधार कार्ड के 12 अंक कौन जारी करता है?

आधार संख्‍या प्राधिकरण द्वारा निर्धारित सत्यापन प्रक्रिया को पूरा करने के उपरांत यूआईडीएआई द्वारा भारत के सभी निवासियों को जारी की जाने वाली 12 अंकों की एक रैंडम संख्‍या है। किसी भी आयु का कोई भी व्यक्ति जो भारत का निवासी है, बिना किसी लिंग भेद के आधार संख्या प्राप्ति‍ हेतु स्वेच्छा से नामांकन करवा सकता है।

और पढ़ें-:  PM CARES: कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई

आधार कार्ड सही करवाने में क्या क्या लगता है?

पहचान प्रमाण: पैन कार्ड/राशन कार्ड/वोटर आईडी/पासपोर्ट/ड्राइविंग लाइसेंस (इनमें से कोई एक) आदि। पता प्रमाण: पासपोर्ट/वोटर आईडी/ड्राइविंग लाइसेंस/राशन कार्ड/युटिलिटी बिल/बैंक पासबुक (इनमें से कोई एक) आदि। जन्म तिथि प्रमाण: पासपोर्ट / जन्म प्रमाण पत्र / पैन कार्ड (इनमें से कोई एक) आदि।

आधार कार्ड कितने साल तक का बन सकता है?

नहीं, आधार नामांकन के लिए कोई आयु सीमा निर्धारित नहीं है। यहाँ तक कि एक नवजात शिशु भी आधार के लिए नामांकन करा सकता है।


अगर कोई बदलाव नहीं है तो क्या आधार कार्ड अपडेट करना अनिवार्य है?

हालाँकि अद्यतनीकरण की आवश्यकता अनिवार्य नहीं है। “जिन निवासियों ने अपना आधार 10 साल पहले जारी करवाया था, और उसके बाद इन वर्षों में कभी अपडेट नहीं किया है, ऐसे आधार नंबर धारकों को अपने दस्तावेज़ अपडेट कराने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

Similar Posts