Solar Cooking Stove Yojana Apply: इस योजना के तहत महिलाओ को मिलेगा 10 साल तक चलने वाला फ्री सोलार चुल्हा, अब गॅस के झंझट से रहे दूर, यहां से करें आवेदन

Solar Cooking Stove Yojana Apply: इस योजना के तहत महिलाओ को मिलेगा 10 साल तक चलने वाला फ्री सोलार चुल्हा, अब गॅस के झंझट से रहे दूर, यहां से करें आवेदन

Solar Cooking Stove Yojana Apply: आज के इस लेख में हम आपके लिए सोलर स्टोव से जुड़ी महत्वपूर्ण और आवश्यक जानकारी लेकर आए हैं। दोस्तों ऐसा माना जाता है कि अगर किसी देश को विकास और तरक्की करनी है तो सबसे पहले अपने देश के गरीब और पिछड़े लोगों का विकास करना जरूरी है। ताकि देश का विकास अपने आप सफल हो सके। इसे देखते हुए, भारत सरकार गरीबों के कल्याण और पिछड़े वर्गों के विकास के लिए विभिन्न योजनाओं और योजनाओं की शुरुआत कर रही है।

Solar Cooking Stove Yojana Apply: इस योजना के तहत महिलाओ को मिलेगा 10 साल तक चलने वाला फ्री सोलार चुल्हा, अब गॅस के झंझट से रहे दूर, यहां से करें आवेदन

Solar Cooking Stove Subsidy

हर गुजरते दिन के साथ रसोई गैस सिलेंडर की कीमत बढ़ती जा रही है। ऐसे में इंडक्शन कुकटॉप मददगार हो सकता है। लेकिन बिजली की प्रति यूनिट कीमत बढ़ रही है। ऐसे में ये दोनों तकनीकें ज्यादा समय तक कारगर नहीं रहती हैं। ऐसे में सरकार की ओर से एक नई तकनीक पेश की गई है, जिसके जरिए जिंदगी भर के लिए मुफ्त खाना तैयार किया जा सकता है। इससे दोहरा फायदा होगा कि सरकार को गैस और बिजली की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए मशक्कत नहीं करनी पड़ेगी।

बिना धूपबत्ती के काम कैसे चलेगा?

Solar Cooking Stove सूर्य नूतन सोलर स्टोव सामान्य सोलर स्टोर से अलग है। पहली बात तो यह है कि सूर्य नूतन चूल्हे को अन्य सौर चूल्हों की तरह धूप में रखने की जरूरत नहीं होगी। साथ ही इसे किचन में भी फिक्स किया जा सकता है। बता दें कि यह एक रिचार्जेबल और इनडोर सोलर कुकिंग सिस्टम है। यह चूल्हा स्प्लिट एसी की तरह है। मतलब एक यूनिट को सनरूम में रखा जा सकता है और दूसरी यूनिट को किचन में रखा जा सकता है।

और पढ़ें-:  Berojgari Bhatta Yojana: बेरोजगार युवाओं को हर महीने मिलेंगे 2500 रुपए, यहाँ से आवेदन करें

Muft Solar Stove योजना

इस योजना के द्वारा ना सिर्फ भारत में पेट्रोलियम इंधन के इस्तेमाल में कमी आएगी। इसके साथ ही गरीब एवं पिछड़े वर्ग के लोगों के होने वाले खर्च में भी कमी आएगी। सोर ऊर्जा से चलने वाले चूल्हे ना सिर्फ पर्यावरण के लिए लाभदायक होंगे। इसके साथ ही महिलाओं की स्थिति में भी सुधार आएगा।

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा बेंगलुरु में होने वाले इंडियन एनर्जी वीक में विभिन्न प्रकार की योजनाओं का शुभारंभ किया जा सकता है। 8 से 9 फरवरी तक चलने वाले यह शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री जी द्वारा मुफ्त सौर ऊर्जा चूल्हा प्रदान करने की घोषणा की जा सकती है। इस योजना का लाभ भारत के गरीब एवं पिछड़े वर्ग के 75 लाख से अधिक लोगों को प्राप्त होगा।

खाना पकाने के फायदे के लिए सोलर स्टोव

कोरोना 19 के पश्चात से ही वैश्विक स्तर पर तेजी से पेट्रोल के दामों में वृद्धि हो रही है। जिसके कारण गैस सिलेंडर एवं एलपीजी इंधन के दाम तेजी से बढ़ते जा रहे हैं, परंतु इस योजना के पश्चात से आप केवल सौर ऊर्जा के माध्यम से ही चूल्हा का प्रयोग कर पाएंगे। जिसके द्वारा आम नागरिकों के खर्चे में कमी आएगी।

इस योजना का द्वारा भारत में पेट्रोलियम एवं एलपीजी इंधन के उपयोग में कमी आएगी। साथ ही सुरक्षित एवं स्वच्छ ऊर्जा का प्रसार होगा। इस योजना के द्वारा आम नागरिक एवं पिछड़े वर्ग के लोगों को केंद्र सरकार द्वारा मुफ्त एवं के फायदे चूल्हे प्रदान किए जाएंगे।

और पढ़ें-:  Sukanya Samriddhi Yojana: हर महीने 250, 500, 1000 जमा करना पर मिलेंगे 74 लाख रूपए

Solar Stove Price: यदि आप बाहर से सौर चूल्हा खरीदते हैं तो उसकी कीमत 14 से ₹15 हज़ार के बीच है परंतु केंद्र सरकार द्वारा सब्सिडी के साथ यह आम नागरिकों को 9 से ₹10 हज़ार में प्रदान किया जाएगा। केवल इसको एक बार खरीदने के पश्चात आप इसका लंबे समय तक प्रयोग कर सकते हैं।

Official websiteClick here

FAQ

इंडियन ऑयल सोलर स्टोव की कीमत क्या है?

इंडियन ऑयल ने बेंगलुरु में इंडिया एनर्जी वीक में पीएम नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में अपने ट्विन कुकटॉप का अनावरण करने के बाद, पुष्टि की है कि सिंगल कुकटॉप 2023 के मध्य तक बाजार में होंगे, जिनकी कीमत रु. 15,000-25,000 हैं।

क्या मैं स्टोव को सौर ऊर्जा से चला सकता हूँ?

सौर पैनलों का कोई भी संयोजन तब तक काम करेगा, जब तक कुल बिजली कम से कम 3000 वाट हो। आप जितनी अधिक सौर ऊर्जा का उपयोग कर सकेंगे, उतना बेहतर होगा। 3000 वाट बिल्कुल वही है जो एक स्टोव की आवश्यकता है, इसलिए यदि आप पैनल का आकार 3200 या 3500 तक बढ़ा सकते हैं, तो यह और भी बेहतर है।

क्या सौर ऊर्जा से चूल्हा जलाया जा सकता है?

हां, एक सौर जनरेटर एक स्टोव को बिजली दे सकता है, लेकिन यह आपके स्टोव के मॉडल/प्रकार पर निर्भर करेगा और सौर जनरेटर की वाट क्षमता। आमतौर पर घरों में दो प्रकार के स्टोव का उपयोग किया जाता है: इलेक्ट्रिक स्टोव और गैस स्टोव।

भारतीय तेल निगम द्वारा कौन सा सोलर कुकर लॉन्च किया गया?

सूर्य नूतन एक स्टेशनरी, रिचार्जेबल और हमेशा रसोई से जुड़ा इनडोर सोलर कुकिंग है। सूर्या नूतन सूर्य के माध्यम से चार्ज करते समय ऑनलाइन कुकिंग मोड प्रदान करता है जो सिस्टम दक्षता को अधिकतम करता है और सूर्य से ऊर्जा का उच्च उपयोग सुनिश्चित करता है।

इंडियन ऑयल किसकी कंपनी है?

इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड भारत सरकार का उपक्रम है जिसका गठन 1964 में इंडियन ऑयल कंपनी लिमिटेड और इंडियन रिफाइनरीज लिमिटेड के विलय से हुआ था।

Similar Posts