SSY: सुकन्या समृद्धि योजना में खुला बिटिया का अकाउंट तो फटाफट कराएं जरूरी काम, नहीं होगा यह नुकसान

SSY: सुकन्या समृद्धि योजना में खुला बिटिया का अकाउंट तो फटाफट कराएं जरूरी काम, नहीं होगा यह नुकसान

SSY: भारत में अब कई ऐसी स्कम चल रही हैं जो बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ अभियान को मजबूत करने का काम कर रही हैं। अगर आपके पास कोई काम नहीं और अमीर बनने की सोच रहे हैं तो फिर कतई भी देर नहीं करे, क्योंकि सरकार की कुछ बेहतरीन स्कीम लोगों का दिल जीतने काम कर रही हैं।

केंद्र सरकार की इस स्कीम का नाम सुकन्या समृद्धि योजना(SSY) है जो बेटियों को अमीर बनाने के लिए काफी है। आपने स्कीम का लाभ नहीं उठाया तो फिर पछतावा करना होगा, क्योंकि बार-बार ऐसे मौके नहीं आते हैं।

SSY: सुकन्या समृद्धि योजना में खुला बिटिया का अकाउंट तो फटाफट कराएं जरूरी काम, नहीं होगा यह नुकसान

इसके लिए आपको बेटियों का अकाउंट ओपन कराना होगा, जिसकी मैच्योरिटी पर एक मुश्त छप्परफाड़ रकम आराम से मिल जाएगी, जिससे किसी तरह की दिक्कत नहीं होगी। स्कीम की खासियत जानने के लिए आपको हमारा आर्टिकल नीचे तक ध्यान से पढ़ने की जरूरत होगी, जो हर किसी का दिल जीतने के लिए काफी है।

सुकन्या समृद्धि योजना से जुड़ी जरूरी बातें

मोदी सरकार की तरफ से शुरू की गई सुकन्या समृद्धि योजना बेटियों का दिल जीतने काम कर रही है, जिसका फायदा आप फटाफट उठा सकते हैं। स्कीम से जुड़ने के लिए आपकी बेटी की आयु 10 साल से कम होना जरूरी है। इसके साथ ही बेटी का अकाउंट पोस्ट ऑफिस या किसी बैंक की ब्रांच में ओपन करवाना होगा।

और पढ़ें-:  Fasal Bima सूची घोषित, मिलेंगे 45,000 हजार रुपये, लिस्ट मे देखें अपना नाम

इस स्कीम पर सरकार ने अब ब्याज दरों में इजाफा कर दिया है, जो बढ़कर 8.2 फीसदी कर दिया गया है। इससे पहले ब्याज दर 8 प्रतिशत थी, जिसे बढ़ाने का फैसला किया है। अगर आपने भी इस योजना में निवेश किया है तो आपको एक काम तुरंत करवाने की जरूरत होती है। अगर समय से आपने यह काम नहीं कराया तो फिर अकाउंट बंद होना जरूरी है। केंद्र सरकार के अनुसार,इस योजना के तहत 2.73 करोड़ से ज्यादा खाते खुलवाए गए हैं।

फटाफट कराएं यह काम

सुकन्या समृद्धि योजना के अनुसार, आपने अकाउंट ओपन करवाया तो इसमें न्यूनतम राशि रखनी जरूरी होगी। इसे लेकर सरकार की ओर से कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाए गए हैं। हर साल खाते में कम से कम 250 रुपये निवेश करने की जरूरत होगी।

इसके अलावा आप मैक्सिमम निवेश 1.5 लाख रुपये तक आराम से कर सकते हैं। अगर आपने 31 मार्च से पहले अकाउंट में पैसे नहीं डाले हैं तो तुरंत ये काम करवा सकते हैं। ऐसा नहीं करने पर पैनल्टी लगाने की जरूरत होगी। इससे आपका अकाउंट भी बंद हो जाएगा। जरूरी है कि आप अकाउंट को दोबारा खोलने के लिए आपको जुर्माना देने की जरूरत होगा।

Official websiteClick here

FAQ

सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ कौन ले सकता है?

बालिका की आयु दस वर्ष या उससे कम होनी चाहिए। कानूनी अभिभावक या माता-पिता बालिका के नाम पर एसएसवाई खाता खोलने के पात्र हैं। जमाकर्ता प्रति बालिका केवल एक खाता खोल सकता है। हालाँकि, जुड़वाँ या दो लड़कियों के मामले में दो खाते खोले जा सकते हैं।

और पढ़ें-:  AMRUT Yojana: जानिए दोनों चरणों की पूरी जानकारी!

सुकन्या समृद्धि योजना के नुकसान क्या है?

सुकन्या समृद्धि योजना का एक Drawback ये है कि इसमें उम्र सीमा का बंधन है। अगर आपकी बेटी की उम्र 10 साल से ज्‍यादा है, तो आप उसके लिए इस योजना के तहत अकाउंट नहीं खोल सकते। ऐसे माता-पिता को बेटी के भविष्‍य के लिए निवेश का कोई और जरिया ढूंढना होगा। उम्र के बंधन के कारण देश की तमाम बेटियां इस योजना का लाभ नहीं ले पातीं।

सुकन्या समृद्धि खाता परिपक्वता के बाद कौन निकाल सकता है?

धनराशि निकालने के लिए फॉर्म-4 भरें और इसे मूल पासबुक के साथ उस डाकघर या बैंक में जमा करें जहां खाता है। इस स्थिति में, आप उपलब्ध शेष राशि का 50 प्रतिशत तक निकाल सकते हैं। इसकी अनुमति लड़की के 18 वर्ष की हो जाने या 10वीं कक्षा उत्तीर्ण करने, जो भी पहले हो, के बाद दी जाती है।

सुकन्या समृद्धि मासिक है या वार्षिक?

आप SSY खाते में प्रति वित्तीय वर्ष में एक बार या छोटी, नियमित किस्तों में पैसा जमा कर सकते हैं। हालाँकि, आपको खाते को सक्रिय और चालू रखने के लिए प्रति वित्तीय वर्ष न्यूनतम 250 रुपये का भुगतान करना होगा और 15 वर्षों की न्यूनतम भुगतान अवधि के लिए इस मानदंड का पालन करना होगा।

सुकन्या समृद्धि योजना में कब तक पैसा जमा करना पड़ेगा?

सुकन्या समृद्धि योजना 21 साल के लिए खुलती है। लेकिन माता-पिता को शुरुआत के 15 साल तक ही पैसा जमा करना पड़ता है। छह साल तक अकाउंट बिना पैसा जमा किए ही ऑपरेशनल बना रहता है। सुकन्या समृद्धि योजना के तहत 10 वर्ष से कम आयु की बेटियों का खाता उनके माता-पिता के नाम पर ही खुलता है।

Similar Posts